इनोवेशन: स्मार्टवॉच बताएगी यूजर में कोरोना के लक्षण हैं या नहीं, शोधकर्ताओं का दावा- इससे महामारी पर काबू पाने में सफलता मिल सकती है

0
10


  • Hindi News
  • Tech auto
  • Apple Watch Can Detech Coronavirus (COVID 19) Symptoms | Here’s Latest Study

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • न्यूयॉर्क स्थित माउंट सिनाई अस्पताल के शोधकर्ताओं ने ऑनलाइन की थी स्टडी
  • शोध में सामने आया कि वॉच पारंपरिक तरीकों की तुलना में 7 दिन पहले संकेत दे सकती है

एपल वॉच कोविड-19 के लक्षणों का पता लगाने में भी सक्षम है। न्यूयॉर्क स्थित माउंट सिनाई अस्पताल के शोधकर्ताओं ने बताया कि एपल वॉच कोविड लक्षणों का पता लगाने वाले पारंपरिक तरीको की तुलना में काफी पहले लक्षणों की पहचान कर सकती है।

स्टडी में सामने आया कि एपल वॉच द्वारा मापी गई यूजर की हार्ट रेट वेरिएबिलिटी (HRV) में सूक्ष्म परिवर्तन से भी कोविड-19 की शुरुआत का संकेत 7 दिन पहले तक दे सकती है। वॉच उन लोगों की भी पहचान करने में सक्षम थी जिनमें लक्षण हैं।

शोधकर्ताओं ने कहा कि संक्रमित होने से पहले ही बीमार लोगों की पहचान करने का एक तरीका विकसित करना से कोविड-19 पर काबू पाने में सफलता मिल सकती है।

एपल वॉच में यह सिस्टम कैसे काम करता है?

  • शोध में शामिल हुए कुछ लोग माउंट सिनाई हेल्थ सिस्टम के स्वास्थ्य कार्यकर्ता थे। यह ऑनलाइन डिजिटल स्टडी थी, जो अप्रैल-सितंबर 2020 के बीच आयोजित की गई थी। सभी प्रतिभागियों ने एपल वॉच पहनीं और एक कस्टमाइज्ड ऐप के माध्यम से रोजाना पूछे जाने वाले सवालों के जवाब दिए।
  • उनके हार्ट रेट में परिवर्तन का उपयोग यह पहचानने के लिए किया गया था कि क्या ये वायरस से संक्रमित है या उनमें लक्षण है। इसके अलावा, अन्य लक्षणों के डेटा को भी इकट्ठा किया गया था, जिसमें बुखार, ठंड लगना, शरीर में दर्द, कमजोरी, छींक आना, नाक बहना, गले में खराश और सिरदर्द जैसे लक्षण शामिल थे।
  • शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि कोविड-19 में डायगोनाइज होने के 7 से 14 दिनों के बाद हार्ट रेट पैटर्न सामान्य होना शुरू हो गया था और यह उन लोगों से बहुत अलग नहीं था जो संक्रमित नहीं थे।
  • माउंट सिनाई के इकॉन स्कूल ऑफ मेडिसिन में प्रोफेसर और स्टडी के को-ऑथर जही फहाद, प्रोफेसर ने कहा कि “यह तकनीक हमें न केवल स्वास्थ्य परिणामों को ट्रैक और पूर्वानुमान लगाने की अनुमति देती है, बल्कि समय पर और रिमोटली तरीके से संक्रमित का पता लगाने की भी सुविधा देती है, क्योंकि कोविड-19 में लोगों से दूरी बनाए रखना बेहदस जरूरी है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here